Shiv Jayanti 2022: भारत के इतिहास में कई वीर सपूतों का नाम शुमार है, जिनमें से एक छत्रपति शिवाजी महाराज (Chhatrapati Shivaji Maharaj) है। इन्हें मराठा गौरव भी कहा जाता है। सन 1674 में पश्चिम भारत में मराठा साम्राज्य की नींव रखने वाले महान मराठा शासक और स्वराज्य की स्थापना करने वाले छत्रपति शिवाजी महाराज की कल जन्मजयंती है। शिवाजी की जन्मजयंती से एक दिन पहले प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें याद किया है।

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट करते हुए लिखा, कल छत्रपति शिवाजी महाराज की जन्मजयंती है। सबसे पहले मैं भारत के गौरव, भारत की पहचान और संस्कृति के रक्षक देश के महान महानायक के चरणों में प्रणाम करता हूँ:

छत्रपति शिवाजी महाराज का जन्म 19 फरवरी 1630 को हुआ था। उनके जन्मदिवस के अवसर पर हर साल भारत में छत्रपति शिवाजी महाराज जयंती मनाई जाती है। इस साल शिवाजी महाराज की 392वीं जयंती (Shivaji Maharaj Birth Anniversary) मनाई जा रही है और इस अवसर पर महाराष्ट्र में सार्वजनिक अवकाश होता है। शिव जयंती पर शिवाजी महाराज द्वारा किए गए अद्भुत बलिदान को याद किया जाता है।

बताते चलें कि छत्रपति शिवाजी महाराज ऐसे पहले भारतीय शासक थे, जिनके बारे में कहा जाता है कि उन्होंने महाराष्ट्र के कोंकण क्षेत्र की रक्षा के लिए नौसेना बल की अवधारणा को पेश किया था। उन्होंने अपनी बटालियन में कई मुस्लिम सैनिकों को भी नियुक्त किया था। उनका नाम शिवाजी भोंसले था, जिन्हें 1674 में औपचारिक तौर पर छत्रपति या मराठा साम्राज्य के सम्राट के तौर पर ताज पहनाया गया था। उन्होंने अपने शासन काल में अदालत और प्रशासन में मराठी और संस्कृति के उपयोग को बढ़ावा देने का फैसला किया था।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *