उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए मेरठ में प्रचार करके लौटने के दौरान ऑल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुस्लिमीन (AIMIM) के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी पर बृहस्पतिवार को हमला किया गया है। ओवैसी पर हुई फायरिंग की घटना की सभी ने कड़ी निंदा की है। सभी दलों के नेताओं ने कहा है कि लोकतंत्र में हिंसा का कोई स्थान नहीं है। वहीं बीजेपी के राज्यसभा सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने भी ट्वीट कर इस घटना की निंदा की है

अपने बयानों और तर्कों से सुर्खियों में रहने वाले बीजेपी सांसद सुब्रह्मण्यम स्वामी ने ट्वीट करते हुए कहा कि तर्क परंपरा में विश्वास न करने वाले कट्टरपंथी ही केवल सांसद ओवैसी की हत्या करना चाहेंगे। ओवैसी भले ही राष्ट्रवादी न हों मगर वे देशभक्त हैं। अंतर केवल यह है कि ओवैसी हमारे देश की रक्षा करेंगे लेकिन वह ये नहीं मानते हैं कि हिंदू और मुस्लिमों का डीएनए एक ही है। हमें उनके मुखर तर्कों का सामना करना चाहिए न कि लोगों को बर्बरता पर उतर आना चाहिए”।

गौरतलब है कि बृहस्पतिवार को यूपी चुनाव के मद्देनजर चुनाव प्रचार से लौटते वक्त हापुड़ के छजरासी टोल पर असदुद्दीन ओवैसी की कार पर गोलियां चलाई गई थी। इस घटना में पुलिस दो लोगों को गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। इस हमले के बाद केंद्र सरकार ने ओवैसी को जेड कैटेगरी की सुरक्षा मुहैया कराई है, लेकिन ओवैसी ने सुरक्षा लेने से इनकार कर दिया है। हाईप्रोफाइल इस मामले में पुलिस अभी जांच में जुटी है।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *