महाराष्ट्र (Maharashtra) की सियासत में बीजेपी और शिवसेना (ShivSena) आमने-सामने हैं। शिवसेना के नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने कश्मीर को लेकर जम्मू-कश्मीर की पूर्व महबूबा मुफ्ती (Mehbooba Mufti) की ओर से दिए गए बयान पर बीजेपी पर हमला बोला है।

महबूबा मुफ्ती की पार्टी बीजेपी की खास दोस्त रही है: संजय राउत
संजय राउत ने कहा है कि महबूबा मुफ्ती की पार्टी बीजेपी की खास दोस्त रही है। दोनों ने मिलकर सत्ता संभाली थी। ऐसे में महबूबा ने जो भी कहा उसके लिए भारतीय जनता पार्टी जिम्मेदार है। महबूबा मुफ़्ती एक राजनीतिक पार्टी है जो शुरू से ही अलगाववादियों का समर्थन करती रही है, फिर भी बीजेपी ने उसके साथ गठबंधन कर सत्ता संभाली।’

संजय ने बीजेपी पर PDP को मजबूत करने का लगाया आरोप
संजय राउत ने आगे कहा कि, ‘भारतीय जनता पार्टी ने महबूबा मुफ्ती और उनकी पार्टी PDP को मजबूत करने का काम किया है, इसलिए इन सबके लिए भारतीय जनता पार्टी ही पूरी तरह से जिम्मेदार है। बीजेपी ने उनके साथ सत्ता का लाभ लिया है। बीजेपी के चलते ही उन्हें बोलने की ताकत मिली है।’

इसके अलावा संजय राउत ने फिर से दोहराया कि, बेशक कश्मीर के मुद्दे पर बीजेपी के कुछ भी विचार हों, लेकिन शिवसेना हमेशा इसका विरोध करेगी। उन्होंने कहा कि महबूबा मुफ्ती की पार्टी बीजेपी की खास दोस्त रही है। यह जानते हुए भी कि मुफ्ती हमेशा पाकिस्तान समर्थक रही है।

महबूबा मुफ्ती ने कश्मीर पर दिया था बयान
आपको बता दें कि PDP की चीफ महबूबा मुफ्ती ने कहा था कि, कश्मीर एक विवाद है और यह विवाद बीते 70 साल से है। इस विवाद का तभी हल होगा जब पाकिस्तान और जम्मू-कश्मीर की जनता से बात होगी। इस बयान के बाद से विपक्षी दल लगातार बीजेपी पर हमला बोल रहे हैं।

‘द कश्मीर फाइल्स’ को लेकर बीजेपी पर साधा था निशाना
दरअसल, चर्चित फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ को लेकर PDP चीफ महबूबा मुफ्ती ने पिछले दिनों बीजेपी पर जमकर हमला बोलते हुए कहा था कि, ‘अगर बीजेपी ने कश्मीरी पंडितों को लेकर कुछ किया होता तो आज हालात अलग होते। जम्मू-कश्मीर में लोग लगातार पीड़ित हैं और अत्याचार सह रहे हैं। जिस तरह से बीजेपी और खुद पीएम मोदी फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ का प्रमोशन कर रहे हैं, अगर इसी तरह पिछले 8 साल में उन्होंने कश्मीरी पंडितों के लिए कुछ किया होता तो आज हालात कुछ और होते।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *