RRB-NTPC परीक्षा में धांधली को लेकर छात्रों का आक्रोश बढ़ता ही जा रहा है। आक्रोशित छात्रों ने शुक्रवार 28 जनवरी को बिहार बंद का आह्वान किया है। इसके साथ ही बड़े प्रदर्शन की बात कही है। वहीं छात्रों के बंद को राजद समेत महागठबंधन के सभी दलों ने समर्थन देने की घोषणा की है।

आपको बता दें कि महागठबंधन की ओर से बृहस्पतिवार को संयुक्त रूप से राजद के प्रदेश कार्यालय में प्रेस कॉन्फ्रेंस की गई। इसके दौरान राजद ने बंद को समर्थन देने का ऐलान किया है।

महागठबंधन के नेताओ ने छात्रों की मांगों को बताया सही
राजद के प्रदेश अध्यक्ष जगदानंद सिंह की अध्यक्षता में महागठबंधन के सभी घटक दल के नेता प्रेस कान्फ्रेंस में शामिल हुए। इनमें कांग्रेस, भाकपा, माकपा, भाकपा माले के नेता प्रमुख है। वहीं इस मौके पर महागठबंधन के नेताओ ने छात्रों की मांगों को सही करार दिया है। महागठबंधन के नेताओं ने छात्रों की मांगों पर जल्द फैसला लेने की मांग की है।

2 करोड़ 42 लाख छात्रों के भविष्य का सवाल
जगदानंद सिंह ने कहा कि हिंसा की ओर छात्रों को मजबूर न किया जाए। यह 2 करोड़ 42 लाख छात्रों के भविष्य का सवाल है। उन्होंने कहा कि आंदोलन में महागठबंधन सक्रिय रूप से शामिल होगा। इसके अलावा माकपा राज्य सचिव अवधेश कुमार ने कहा कि पिछले सात वर्षों में बीजेपी के राज में छात्र अपने को लगातार छला महसूस कर रहे हैं। बिहार की डबल इंजन सरकार ने भी 19 लाख रोजगार देने का वादा पूरा नहीं किया।

वहीं RRB-NTPC परीक्षा को लेकर चल रहे बवाल के बीच बिहार के पूर्व उपमुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी ने ट्वीट किया है उन्होंने कहा कि रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव से उनकी लंबी बातचीत हुई है। छात्रों की मांग पर सहमति बन गई है।

यूपी में हाई अलर्ट
वहीं दूसरी ओर बिहार की परिस्थिति को देखते हुए उत्तर प्रदेश के कई जिलों में हाई अलर्ट लगा दिया गया है। डीजीपी ने सभी जिलों के एसपी आईजी रेंज एडीजी ज़ोन को सतर्क रहने के निर्देश दिए हैं। एलआईयू व जिलों की सर्विलांस टीम भी एक्टिव कर दी गई हैं। इसके अलावा शांति व्यवस्था भंग करने वालों से सख्ती से निपटने के आदेश दिए गए हैं।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *