महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना प्रमुख राज ठाकरे (MNS chief Raj Thackeray) ने मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटाने की मांग को लेकर नया अल्टीमेटम जारी किया है। राज ठाकरे ने आज फिर से मस्जिदों पर लगे लाउडस्पीकर हटाने की मांग दोहराई। इसके साथ-साथ उन्होंने शरद पवार पर हमला बोला और उन पर जाति की राजनीति का आरोप लगाया।

ये भी पढ़ें: New York Subway attack: न्यूयॉर्क के सबवे स्टेशन में अंधाधुंध फायरिंग, 5 लोगों की मौत

ऐसा कौन-सा धर्म है जो दूसरे धर्म को तकलीफ देता है: राज ठाकरे  
राज ठाकरे ने ठाणे में आयोजित सभा में मंगलवार को कहा कि राज्य सरकार को मैं साफ बताना चाहता हूं मैं इस मुद्दे से पीछे नहीं हटूंगा, आपको जो करना है करो। राज ठाकरे ने कहा कि ऐसा कौन-सा धर्म है जो दूसरे धर्म को तकलीफ देता है। सुप्रीम कोर्ट ने कहा मस्जिद से लाउड स्पीकर हटने चाहिए तो इन्हें क्यों नहीं दिख रहा ? वोटों के लिए।

ये भी पढ़ें: Made In India कमर्शियल हवाई जहाज ने भरी देश की पहली उड़ान, Alliance Air ने शुरू की सर्विस

राज ठाकरे ने 3 मई तक मस्जिद से लाउडस्पीकर हटाने की मांग दोहराई
ठाकरे ने राज्य सरकार को अल्टीमेटम दिया कि 3 मई तक अगर मस्जिद से अगर लाउडस्पीकर ( (Mosque Loudspeakers) )नहीं हटेंगे तो देश भर में मस्जिद के सामने हनुमान चालीसा बजेगी। ठाकरे ने ये भी कहा कि 3 मई को ईद है। 3 मई तक सभी मस्जिदों से लाउडस्पीकर हटा दें हमारी तरफ से कोई तकलीफ़ नहीं होगी।

जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू होने की ज़रूरत
इसके अलावा राज ठाकरे ने प्रधानमंत्री मोदी से देश मे कॉमन सिविल कोड लागू करने की मांग की। साथ ही इस देश में जनसंख्या नियंत्रण कानून लागू होने की जरूरत बताई।

ये भी पढ़ें: सैमसंग ने लॉन्च किया Galaxy S20 FE 2022, जानिए कीमत और फीचर्स

शरद पवार पर जाति की राजनीति करने का लगाया आरोप
वहीं राज ठाकरे ने शरद पवार पर भी जम कर बरसे। राज ने कहा कि शरद पवार कह रहें है कि मैं अपनी भूमिका बदलता हूं। मैं पूछता हूं वो बताएं कब मैंने अपनी भूमिका बदली? राज ठाकरे ने बताया कि पवार नास्तिक हैं। वो धर्म मानते नहीं हैं इसलिए वो जाति की राजनीति करते हैं। राज ठाकरे ने कहा कि शरद पवार कभी भी अपनी सभा में शिवाजी महाराज का नाम नहीं लेते हैं। वो डरते हैं कि अगर शिवाजी महाराज का नाम लिया तो मुसलमानों का वोट नहीं मिलेगा। इसलिए वो शाहू, फुले और आंबेडकर का नाम लेते हैं।

ये भी पढ़ें: Twitter बोर्ड का हिस्सा नहीं होंगे Elon Musk, CEO पराग अग्रवाल ने शेयर किया यह नोट

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *