Punjab News: पंजाब के मुख्यमंत्री भगवंत मान (Bhagwant Mann) ने अपनी ही सरकार के मंत्री पर कड़ा एक्शन लिया है। उन्होंने मंत्री विजय सिंगला (Vijay Singla) को बर्खास्त कर दिया है। मुख्यमंत्री भगवंत मान ने विजय सिंगला के खिलाफ भ्रष्टाचार के सबूत मिलने के बाद ये कार्रवाई की है। इतना नहीं, सीएम भगवंत मान ने पंजाब पुलिस को विजय सिंगला के खिलाफ केस दर्ज करने के भी निर्देश दिए हैं।

विजय सिंगला स्वास्थ्य मंत्री थे
भगवंत मान के नेतृत्व वाली सरकार मेंविजय सिंगला स्वास्थ्य मंत्री थे। विजय सिंगला पर अधिकारियों से ठेके पर एक फीसदी कमीशन की मांग करने और भ्रष्टाचार में लिप्त होने की शिकायतें आ रही थीं। विजय सिंगला के भ्रष्टाचार में लिप्त होने के आरोप को लेकर पुख्ता सबूत मिलने के बाद सीएम भगवंत मान ने उन्हें अपने मंत्रिमंडल से बाहर का रास्ता दिखा दिया।

भ्रष्टाचार बर्दाश्त नहीं किया जाएगा: भगवंत मान
मुख्यमंत्री भगवंत मान ने विजय सिंगला को मंत्रिमंडल से बाहर करने की घोषणा करते हुए स्पष्ट करते हुए कहा कि हम एक परसेंट भ्रष्टाचार भी बर्दाश्त नहीं करेंगे। उन्होंने कहा कि जनता ने बहुत उम्मीदों के साथ आम आदमी पार्टी (AAP) की सरकार बनवाई है। उस उम्मीद पर खरा उतरना हमारा कर्तव्य है।

भ्रष्टाचार के खिलाफ महायुद्ध जारी रहेगा: भगवंत
सीएम मान ने कहा कि जब तक अरविंद केजरीवाल जैसे भारत माता के बेटे और भगवंत मान जैसे सिपाही हैं, भ्रष्टाचार के खिलाफ महायुद्ध जारी रहेगा।

बता दें कि पंजाब में ऐसा पहली बार हुआ है जब किसी मुख्यमंत्री ने अपने ही मंत्री को भ्रष्टाचार के मामले में बर्खास्त कर दिया हो। गौरतलब है कि पंजाब विधानसभा चुनाव के दौरान आम आदमी पार्टी ने भ्रष्टाचार को लेकर भी सत्ताधारी कांग्रेस पर जमकर हमला बोला था। पार्टी ने सिस्टम में गहराई तक जड़े जमाए बैठे भ्रष्टाचार को जड़ से उखाड़ फेंकने के वादे किए थे।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *