Power Demand High: देश में गर्मी बढ़ने के साथ ही बिजली की डिमांड रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची गई है। अखिल भारतीय स्तर पर बिजली की मांग या एक दिन में सबसे अधिक आपूर्ति शुक्रवार को 2,07,111 मेगावाट के रिकॉर्ड स्तर पर पहुंच गई। देश के ज्यादातर राज्यों में बढ़ते तापमान के साथ बिजली की मांग में भारी बढ़ोत्तरी हुई है।

बिजली की अखिल भारतीय मांग 2,07,111 मेगावाट तक
बिजली मंत्रालय ने शुक्रवार को एक ट्वीट में कहा कि बिजली की अखिल भारतीय मांग शुक्रवार को दोपहर 14:50 बजे तक 2,07,111 मेगावाट तक पहुंच गई, जो अब तक का सबसे उच्च स्तर है। यह देश भर के कई राज्यों में भीषण लू के दौरान बिजली संकट की खबरों के बीच आया है।

देश में रिकॉर्ड स्तर पर पहुंची बिजली की डिमांड
देश के ज्यादातर राज्यों में भीषण गर्मी पड़ रही है। गर्मी की वजह से अप्रैल में बिजली की मांग बढ़ी है और देश के अलग-अलग हिस्सों में लोगों को बिजली कटौती का सामना करना पड़ रहा है। रूस-यूक्रेन संघर्ष के कारण आयातित कोयले की कीमतों में भारी बढ़ोत्तरी और कुछ बिजली संयंत्र अपनी पूरी क्षमता से काम नहीं कर रहे हैं जिसकी वजह से ये समस्या और बढ़ गई है।

थर्मल प्लांट में करीब 22 मिलियन टन कोयला
वहीं थर्मल प्लांट के पास कोयले के स्टॉक में गिरावट की खबरों के बीच केंद्रीय मंत्री प्रह्लाद जोशी ने कहा है कि देश के थर्मल प्लांट में करीब 22 मिलियन टन कोयला है जो 10 दिनों के लिए पर्याप्त है और इसकी भरपाई लगातार की जाएगी।

कई राज्यों में बिजली गुल की समस्या
आपको बता दें कि झारखंड, हरियाणा, बिहार, पंजाब और महाराष्ट्र उन राज्यों में शामिल हैं जहां बिजली गुल की समस्या से लोगों को परेशानी हो रही है। उधर, दिल्ली सरकार ने महत्वपूर्ण प्रतिष्ठानों को बिजली कटौती की संभावना पर भी केंद्र को पत्र लिखा है। राज्य और केंद्र शासित प्रदेश भी स्थिति से निपटने के लिए कदम उठा रहे हैं। बिजली संयंत्रों में कोयले की कमी न हो इसके लिए सरकार पूरी कोशिश में जुटी हुई है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *