देश आज (14 फरवरी) के दिन को काले दिवस के रूप में मना रहा है। आज का दिन इतिहास के पन्नों में जम्मू-कश्मीर की सबसे दुखद घटना है। साल 2019 में आज (14 फरवरी) ही के दिन आतंकवादियों ने देश के सुरक्षाकर्मियों पर कायरना हमला किया था, जिसमें CRPF के 40 जवान शहीद हो गए और कई जवान गंभीर रूप से घायल हो गए थे। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी, अमित शाह और राहुल गांधी समेत सभी राजनेताओं ने सोमवार को जम्मू-कश्मीर में 14 फरवरी 2019 में हुए घातक पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों को श्रद्धांजलि दी।

पीएम नरेंद्र मोदी ने अपने ऑफिशियल ट्वीटर हैंडल से ट्वीट करते हुए लिखा, मैं 2019 में आज के दिन पुलवामा में शहीद हुए सभी लोगों को श्रद्धांजलि देता हूं और हमारे देश के लिए उनकी उत्कृष्ट सेवा को याद करता हूं। आपकी बहादुरी और सर्वोच्च बलिदान प्रत्येक भारतीय को एक मजबूत और समृद्ध देश की दिशा में काम करने के लिए प्रेरित करता है।

 

गृहमंत्री अमित शाह ने शहीद हुए जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए लिखा कि पुलवामा के कायरतापूर्ण आतंकी हमले में अपना सर्वोच्च बलिदान देकर देश की संप्रभुता को अक्षुण्ण रखने वाले सीआरपीएफ के बहादुर जवानों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि देता हूँ। देश आपके बलिदान का सदैव ऋणी रहेगा। आपकी वीरता हमें आतंकवाद को जड़ से समाप्त करने हेतु निरंतर प्रेरित करती रहेगी।

रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने ट्टीट करते हुए लिखा, पुलवामा में 2019 में मारे गए CRPF के बहादुर जवानों के बलिदान को यह देश कभी नहीं भूलेगा। उनके प्रति मैं अपनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूँ ।

कांग्रेस नेता राहुल गांधी ने पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए सीआरपीएफ जवानों को श्रद्धांजलि देते हुए लिखा, पुलवामा के शहीदों को हम कभी भुला नहीं सकते। उनका व उनके परिवारों का बलिदान बेकार नहीं जाएगा- हम जवाब लेके रहेंगे… जय हिंद!

गौरतलब हो कि तीन साल पहले पुलवामा में 14 फरवरी को जैश-ए-मोहम्मद के एक आतंकवादी ने विस्फोटकों से भरे वाहन को सीआरपीएफ की बस में टक्कर मार दी थी, जिसमें सीआरपीएफ के 40 जवान शहीद हो गए थे। ये भी पढ़ें: Pulwama Attack: पुलवामा हमले की तीसरी बरसी आज, आतंकियों ने CRPF के 40 जवानों को बनाया था निशाना

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *