पाकिस्तान में मचे सियासी संकट के बीच नई राजनीतिक लड़ाई छिड़ गई है। पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान (Pakistan PM Imran Khan) अपनी कुर्सी बचाने में जुटे हुए हैं। आज पाक पीएम के खिलाफ लाए गए अविश्वास प्रस्ताव पर वोटिंग (No trust vote) होनी थी, लेकिन डिप्टी स्पीकर ने विदेशी साजिश का आरोप लगाकर अविश्वास प्रस्ताव को खारिज कर दिया है। इसके बाद संसद की कार्यवाही को स्थगित कर दिया गया।

ये भी पढ़ें: LPG गैस फिर हुआ महंगा, 19 KG वाले कमर्शियल सिलेंडर के दाम 250 रुपये बढ़े

नेशनल असेंबली के डिप्टी स्पीकर कासिम खान सूरी ने अविश्वास प्रस्ताव को किया खारिज
नेशनल असेंबली को संबोधित करते हुए इमरान सरकार के मंत्री फवाद हुसैन ने कहा कि अविश्वास प्रस्ताव आम तौर पर एक लोकतांत्रिक अधिकार है। संविधान के अनुच्छेद 95 के तहत अविश्वास प्रस्ताव दाखिल किया गया है, लेकिन दुर्भाग्य से ये एक विदेशी सरकार द्वारा सत्ता परिवर्तन के लिए एक प्रभावी ऑपरेशन है। चंद लम्हों के उनके संबोधन के बाद नेशनल असेंबली के डिप्टी स्पीकर कासिम खान सूरी ने अविश्वास प्रस्ताव को खारिज कर दिया और कार्यवाही स्थगित कर दी।

ये भी पढ़ें: LPG Price Hike: आम आदमी पर महंगाई की चौतरफा मार, दूध और पेट्रोल-डीजल के बाद आज से LPG सिलेंडर भी हुआ महंगा

25 अप्रैल को आयोजित होगी अविश्वास प्रस्ताव की अगली बैठक
बता दें कि डिप्टी स्पीकर ने विदेशी साजिश का आरोप लगाकर अविश्वास प्रस्ताव खारिज किया। साथ ही कहा कि ये असंवैधानिक है। संसद की अगली बैठक 25 अप्रैल को आयोजित की जाएगी।

आपको बता दें कि बीते दिनों पहले इमरान खान सरकार में सूचना एवं प्रसारण मंत्री फवाद चौधरी ने ये सनसनीखेज दावा किया था कि पीएम इमरान खान की हत्या हो सकती है और सुरक्षा एजेंसियों को इसकी साजिश रचे जाने की जानकारी मिली है। इसके बाद इमरान खान की सिक्योरिटी में इजाफा कर दिया गया था।

ये भी पढ़ें: सरकारी कर्मचारियों के लिए दाढ़ी रखना और ड्रेस कोड होगा अनिवार्य, नियम तोड़ने पर जाएगी नौकरी

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *