उत्तर प्रदेश के लखनऊ से एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। दरअसल, मोबाइल गेमिंग की लत ने एक बेटे को अपनी मां का हत्यारा बना दिया। एक बेटे ने अपनी मां को महज इसलिए मौत के घाट के उतार दिया क्योंकि वह उसे PUBG गेम खेलने से मना करती थी।

कहां का है मामला:
यह मामला लखनऊ के यमुनापुरम कॉलोनी का है। जहां एक नाबालिग बेटे ने अपनी मां को मौत के घाट उतार दिया है। हत्या करने की जो वजह सामने आई है, उससे हर कोई दंग और हैरान है। इस नाबालिक लड़के अपनी मां की हत्या इसलिए की है, क्योंकि वह उसे PUBG खेलने से रोकती थी।

पड़ोसियों ने दी पुलिस को सूचना
यमुनापुरम कॉलोनी से मंगलवार रात पुलिस कंट्रोल रूम में एक फोन किया गया कि पड़ोस के घर से तेज बदबू आ रही है और कुछ गड़बड़ी की आशंका है। रात के वक्त ही पुलिस इस मकान में पहुंचती है, तो घर में एक नाबालिग भाई-बहन मिलते हैं, लेकिन जब अंदर के बेडरूम का दरवाजा खोला जाता है तो सब सन्न रह जाते हैं। कमरे के अंदर एक महिला की लाश देखकर पुलिस चौंक जाती है। लाश इन दोनों बच्चों की मां की थी।

घऱ में दो दिन तक छिड़कता रहा रूम फ्रेशनर
पुलिस जब इस मकान में दाखिल हुई तो हवा में दुर्गंध और खुशबू का मिलाजुला भभका था। शव से जब बदबू आने लगी तो इसे छिपाने के लिए आरोपी बेटे ने घर में रूम फ्रेशनर छिड़कता था। इसके बावजूद पड़ोसियों तक शव की बदबू पहुंच गई और इसी से इस मामले का खुलासा हुआ।

PUBG खेलने से रोकती थी मां
यकीन कर पाना मुश्किल है कि मोबाइल गेमिंग की लत से मजबूर बेटे ने मां की ही जान ले ली, लेकिन लखनऊ पुलिस का दावा है कि उसने हत्या का ये केस चंद घंटों में ही सुलझा लिया है और उसके मुताबिक, हत्या की ये थ्योरी सौ फीसदी सही है। आरोपी नाबालिग ने पुलिस के सामने कबूला है कि उसकी मां उसे मोबाइल पर पबजी गेम खेलने पर रोकती थी।

मां के सिर पर गोली मार कर की हत्या
बेटे ने रविवार की आधी रात को पिता की लाइसेंसी पिस्टल से मां के सिर पर गोली मार दी। मां की मौत के बाद उसने शव को कमरे में बंद कर दिया और छोटी बहन को धमकाकर दूसरे कमरे में बंद कर दिया और पूरे दो दिनों तक मां के शव के साथ इसी घर में बंद रहा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *