Delhi: देश की राजधानी दिल्ली में सरकार भले ही महिलाओं और लड़कियों की सुरक्षा के लाख दावे करती हो लेकिन हकीकत यही है कि महिलाएं और लड़किया बिल्कुल भी सुरक्षित नहीं है। बाहरी-उत्तरी जिले के नरेला औद्योगिक क्षेत्र (Narela Industrial Area) से एक 14 वर्षीय नाबालिग लड़की के साथ सामूहिक बलात्कार की खबर सामने आई है। दो लोगों ने रेप करने के बाद उसकी हत्या कर दी। हालांकि इस जघन्य कांड को अंजाम देने वाले दो आरोपियों में से एक को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया है।

वहीं पुलिस के मुताबिक लड़की 12 फरवरी को अपने घर से लापता हो गई थी जिसके बाद उसके माता-पिता और भाई ने उसकी तलाश शुरू की। तीन दिन की तलाशी के बाद जब वह कहीं नहीं मिली तो परिजनों ने पुलिस में शिकायत दर्ज कराई। पुलिस ने अपहरण का मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी।

दरअसल, शनिवार दोपहर करीब 1 बजे पीसीआर को नरेला औद्योगिक क्षेत्र के सन्नोठ गांव के एक दुकानदार राहुल राय का फोन आया कि वह कुछ दिनों से झांसी किसी काम से गया हुआ था। शनिवार को जब वह लौटा और दुकान खोलकर देखा तो उसमें से दुर्गंध आ रही थी। पुलिस की एक टीम मौके पर पहुंची और बोरियों में रखे गोबर के उपलों के ढेर के नीचे लापता लड़की का आंशिक रूप से शव मिला।

ABP के मुताबिक, राय ने पुलिस को बताया कि दुकान के दो कर्मचारी लापता हैं। इसके बाद पुलिस ने जिन घरों में वे रहते थे, वहां छापेमारी की, लेकिन वे नहीं मिले। बाद में, उनमें से एक को सोमवार को सनोथ के बाहरी इलाके से पुलिस ने धर दबोचा।

पुलिस पूछताछ के दौरान आरोपी ने बताया कि उसके खाना देने का झांसा देकर बुलाया और बारी-बारी से उसका यौन शोषण किया। आरोपी ने कहा कि लड़की ने उनसे कहा था कि वह अपने माता-पिता को सारी बात बता देगी। इसके बाद पहचान के खुलासे के डर से, उन्होंने उसके पहने हुए पलाज़ो से उसका गला घोंट दिया। फिलहाल पुलिस दूसरे आरोपी की तलाश में जुटी है।

ये भी पढ़ें: UP Election 2022: सीएम योगी पर बरसीं प्रियंका गांधी, पूछा- भर्ती कब निकालोगे योगी जी?

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *