आज केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया (Mansukh Mandaviya) ने नीति आयोग से जुड़े NGO’s के साथ भारत के पब्लिक हेल्थ रिस्पॉन्स से कोविड प्रबंधन’ को लेकर वेबिनार को संबोधित किया। उन्होंने इस दौरान कोविड आपदा के दौरान की गई तैयारियों के मुख्य बिंदुओं के बारे में चर्चा की। स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि कोरोना के समय में सभी NGO’s द्वारा किए गए कामों की खुलकर सराहना की। आपको बता दें कि इस वेबिनार को बिल गेट्स  फाउंडेशन के साथ आयोजित किया गया।

कोविड-19 प्रंबंधन हेतु सार्वजनिक स्वास्थ्य प्रतिक्रिया (पब्लिक हेल्थ रिस्पॉन्स) में केंद्रीय स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया जी ने बताया कि कोरोना आपदा के दौरान NGO’s ने एक बहुत बड़ी भूमिका निभाई है साथ ही भारत ने जिस प्रकार कोविड के विरुद्ध एकजुट होकर लड़ाई लड़ी उसकी दुनिया सराहना कर रही है।

उन्होंने बताया कि COVID के खिलाफ़ लड़ाई में लीडरशिप, कार्ययोजना और एकता ही सफलता के सबसे महत्वपूर्ण पहलू रहे, जिसके चलते ही भारत की शक्ति और क्षमता और निखर कर सामने आयी है।

मांडविया ने आगे कहा कि मुझे याद है दुनिया में ऐसे हालात थे कि विकसित देशों में भी स्वास्थ्य कर्मचारी ड्यूटी पर नहीं आ रहे थे, क्यूँकि वो कोविड से डर रहे थे। वहीं भारत में सब एकजुट हुए और अपनी जिम्मेदारी निभाते हुए सफेद खाक़ी वाले योद्धाओं ने कभी अपनी ड्यूटी नहीं छोड़ी। ऐसे महान जज़्बों को हमारे देश के प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने प्रोत्साहन देने के लिए ताली बजाई और थाली बजाई।

स्वास्थ्य एवं परिवार कल्याण मंत्री डॉ. मनसुख मांडविया जी ने बताया कि COVID के खिलाफ सफल होने के लिए हम सभी ने टीकाकरण, स्वच्छता और सभी नियमों को पूरी ज़िम्मेदारी के साथ निभाया है। उन्होंने आगे कहा कि हमारी विचारधारा वसुधैव कुटुमबंकं के साथ-साथ लाभ और शुभ की रही है जिसके तहत हमने कई देशों को मुफ़्त वैक्सीन प्रदान किया है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *