आज भारत और बांग्लादेश के बीच में मैच था और भारतीय टीम ने इस रोमांचक मैच में बांग्लादेश को पांच रन से हरा दिया। आपको बता दें कि बांग्लादेश ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया। भारत ने 20 ओवर में छह विकेट पर 184 रन बनाए। बांग्लादेश को मैच जीतने के लिए 185 रन बनाने थे, लेकिन बारिश के कारण उसे 16 ओवर में 151 रन का लक्ष्य मिला। वह 16 ओवर में छह विकेट पर 145 रन ही बना सकी।

कोहली बने प्लेयर ऑफ द मैच-
आपको बता दें विराट कोहली को उनकी नाबाद 64 रन की पारी के लिए प्लेयर ऑफ द मैच अवॉर्ड दिया गया। बांग्लादेश को जीत के लिए आखिरी ओवर में 20 रनों की आवश्यकता थी लेकिन अर्शदीप सिंह ने 14 रन ही दिए। नुरूल हसन सोहान ने एक चौका और एक छक्का लगाकर मैच को अंतिम गेंद तक पहुंचाया, लेकिन वह अपनी टीम को जीत नहीं दिला सके।

भारतीय टीम की शुरुआत खराब, रोहित फेल-
टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए टीम इंडिया की शुरुआत खराब रही थी। 11 पर भारत को पहला झटका लगा। कप्तान रोहित शर्मा एकबार फिर फेल रहे। वह आठ गेंदों में दो रन बनाकर आउट हुए। इसके बाद विराट कोहली और राहुल ने दूसरे विकेट के लिए 67 रन की साझेदारी निभाई। राहुल ने टी20 अंतरराष्ट्रीय करियर का 21वां अर्धशतक लगाया। वह 32 गेंदों में तीन चौके और चार छक्के लगाकर आउट हुए। उन्हें शाकिब ने मुस्तफिजुर के हाथों कैच कराया।

राहुल, कोहली और सूर्यकुमार की शानदार बैटिंग-
इसके बाद सूर्यकुमार और कोहली ने तीसरे विकेट के लिए 38 रन की साझेदारी निभाई। सूर्यकुमार 16 गेंदों में 30 रन बनाकर आउट हुए। अपनी पारी में उन्होंने चार चौके लगाए। इसके बाद हार्दिक पांड्या पांच रन और दिनेश कार्तिक सात रन बनाकर आउट हुए। अक्षर पटेल सात रन बनाकर आउट हुए। कोहली 44 गेंदों में आठ चौके और एक छक्के की मदद से 64 रन बनाकर नाबाद रहे। इस दौरान उनका स्ट्राइक रेट 145.45 का रहा। बांग्लादेश की ओर से हसन महमूद ने तीन विकेट लिए। वहीं, कप्तान शाकिब ने दो विकेट लिए।

आखिरी ओवर में 20 रन नहीं बना सकी बांग्लादेश की टीम-
आपको बता दें हार्दिक ने 13वें ओवर में दो विकेट लिए। उन्होंने पहले यासिर अली को अर्शदीप के हाथों कैच कराया। इसके बाद मोसद्दक हुसैन को क्लीन बोल्ड किया। आखिरी दो ओवर में बांग्लादेश को जीत के लिए 31 रन चाहिए थे। 15वें ओवर में हार्दिक गेंदबाजी के लिए आए और उन्होंने 11 रन दिए। इस तरह आखिरी ओवर में बांग्लादेश को जीत के लिए 20 रन चाहिए थे। गेंदबाजी की कमान अर्शदीप के हाथों में थी। इस ओवर में उन्होंने 14 रन दिए। इस तरह टीम इंडिया ने पांच रन से मैच जीत लिया। बांग्लादेश की टीम छह विकेट पर 145 रन ही बना सकी।

बारिश की वजह से सातवें ओवर में रुका मैच-
185 रन के लक्ष्य का पीछा करने उतरी बांग्लादेश की टीम के लिए शुरुआत बेहद शानदार रही। सात ओवर तक टीम ने बिना कोई विकेट गंवाए 66 रन बना लिए थे। टीम नौ के रन रेट से रन बना रही थी। सातवें ओवर में तेजी से बारिश होने लगी और मैच को रोक दिया गया। तब नजमुल हुसैन शांतो 16 गेंदों में सात रन और लिटन दास 26 गेंदों में 59 रन बनाकर तूफानी बल्लेाजी कर रहे थे। जिस वक्त मैच रुका उस वक्त भारतीय फैन्स के चेहरे पर मायूसी छा गई थी।

डीएलएस आता तो हार जाता भारत-
आपको बता दें डकवर्थ लुईस नियम के तहत बांग्लादेश भारत से 17 रन आगे था। अगर मैच में बारिश होती तो टीम इंडिया डकवर्थ लुईस नियम के तहत 17 रन से हार जाती। सभी भारतीय फैन्स बारिश रुक जाने की प्रार्थना कर रहे थे। आखिर मे करीब एक घंटे बाद बारिश रुकी और वह टीम इंडिया के लिए चमत्कार बनकर आई। बारिश से पहले जहां बांग्लादेश की टीम जीत रही थी, बारिश के बाद टीम इंडिया ने जबरदस्त वापसी की।

डीएलएस से 151 रन का लक्ष्य मिला-
बारिश के कारण डकवर्थ लुईस नियम के मुताबिक, बांग्लादेश को 16 ओवर में जीत के लिए 151 रन का लक्ष्य मिला था। उसने सात ओवर में बिना किसी नुकसान के 66 रन बना लिए थे। ऐसे में उसे अब नौ ओवर में 85 रनों की और जरुरत थी। तब बांग्लादेश के हाथों में 10 विकेट थे, लेकिन टीम इंडिया ने वापसी कर मैच पलट दिया।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *