गुरुग्राम के सोहना में घामडोज टोल विवाद को लेकर टोल संघर्ष समिति ने आर-पार की लड़ाई लड़ने की घोषणा कर दी है। रविवार को टोल प्लाजा के पास ग्रामीणों ने महापंचायत बुलाई। इस महापंचायत में 20 किलोमीटर दायरे में आने वाले गांवों के लोगों का टोल माफ कराने के लिए लड़ाई लड़ने का फैसला लिया गया।

सेवानिवृत महाराज सिंह की अध्यक्षता में हुई महापंचायत
बता दें कि यह महापंचायत सुबह सवा 11 बजे टोल संघर्ष समिति के वरिष्ठ सदस्य सेवानिवृत महाराज सिंह की अध्यक्षता में शुरू हुई। महापंचायत का आयोजन घामडोज टोल प्लाजा के पास ही खाली जमीन पर टेंट लगाकर किया गया।

दुकानदारों, व्यापारियों और नागरिकों ने दिया समर्थन
इसमें फरीदाबाद, पलवल, बादशाहपुर, गुरुग्राम, मानेसर, कोटा बिस्सर समेत आसपास के लगते 20 से 25 गांवों से करीब 500 ग्रामीण पहुंचे। सोहना शहर से सैकड़ों की संख्या में दुकानदार, व्यापारी और नागरिकों ने पहुंचकर अपना समर्थन दिया। महापंचायत करीब ढाई घंटे चली। फरीदाबाद, पलवल, नूंह और रेवाड़ी से भी लोग महापंचायत में हिस्सा लेने पहुंचे।

20 गांवों के लिए चार दिन तक फ्री रहेगा टोल
सोहना SDM जितेंद्र गर्ग भी महापंचायत पर पहुंचे और उन्होंने उच्च अधिकारियों से बात कर विवाद सुलझाने के लिए चार दिन का ग्रामीणों से समय मांगा। SDM ने कहा कि चार दिन तक 20 किमी दायरे में आने वाले करीब 20 गांवों के स्थायी निवासियों का टोल फ्री रहेगा।

दोनों पक्षों के बीच होगी सद्भावना बैठक
सोहना SDM जितेंद्र गर्ग ने उपायुक्त से बात करने के बाद महापंचायत में विवाद का समाधान करने के लिए दोनों पक्ष की तरफ से सदभावना बैठक जल्द ही बुलाने का आश्वासन देते हुए गुरुवार तक का समय मांगा। उन्होंने जल्द ही विवाद को हल निकालने का भरोसा भी दिया। इस दौरान ग्रामीणों ने चार दिन तक टोल नहीं देने की बात भी रखी। अब गुरुवार तक टोल प्लाजा के 20 किमी दायरे में आने वाले गांवों के स्थायी निवासियों का टोल फ्री रहेगा।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *