Jai Prakash Chouksey Died: जाने-माने फिल्म समीक्षक जय प्रकाश चौकसे का 83 साल की उम्र में निधन हो गया है। आज बुधवार को सुबह उन्होंने इंदौर में उन्होंने अंति सांस ली। चौकसे बीते कुछ वक्त से वह बहुत अधिक बीमार चल रहे थे।

पिछले हफ्ते लिखी ‘परदे के पीछे’ की अंतिम किस्त
आपको बता दें कि पिछले हफ्ते उन्होंने अपने लोकप्रिय कॉलम ‘परदे के पीछे’ की अंतिम किस्त लिखी थी। जय प्रकाश चौकसे के आखिरी लेख की हेडलाइन कुछ इस प्रकार थी- प्रिय पाठको… यह विदा है, अलविदा नहीं, कभी विचार की बिजली कौंधी तो फिर रूबरू हो सकता हूं, लेकिन संभावनाएं शून्य हैं’। जय प्रकाश चौकसे के जाने से उनके चाहने वाले काफी दुखी हैं। सोशल मीडिया पर जय प्रकाश चौकसे को श्रद्धांजलि दी जा रही है।

शाम 5 बजे होगा जय प्रकाश चौकसे का अंतिम संस्कार
मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, चौकसे का अंतिम संस्कार शाम 5 बजे किया जाएगा। जय प्रकाश चौकसे के छोटे बेटे आदित्य मुंबई में रहते हैं। फिलहाल उनका इंतजार किया जा रहा है। जय प्रकाश चौकसे के कपूर खानदान और सलीम खान के परिवार से बहुत करीबी संबंध थे।

राज कपूर के जीवन पर लिखी किताब
आपको बता दें कि जय प्रकाश चौकसे सिर्फ फिल्म समीक्षक नहीं थे बल्कि एक स्थापित उपन्यासकार और लेखक भी थे। उन्होंने दराबा और ताज बेकरारी नाम के उपन्यास भी लिखे थे, साथ ही राज कपूर के जीवन पर आधारित एक किताब का लेखन भी किया था, जिसका शीर्षक, ‘राजकपूर: सृजन प्रक्रिया’ था।

सलमान खान अभिनीत बॉडीगार्ड फिल्म की कहानीकार
इतना ही नहीं चौकसे ने सलमान खान अभिनीत बॉडीगार्ड फिल्म की कहानी भी लिखी थी, जोकि बॉक्स ऑफिस पर बेहद सफल फिल्म रही थी। उन्होंने फिल्म निर्माण से लेकर फिल्म रियलिटी शो के लिए स्क्रिप्ट राइटिंग का काम भी किया थ लेकिन उनकी असली पहचान फिल्म पत्रकार के रूप में ही रही।

ये भी पढ़ें:

सोशल मीडिया पर बॉडी शेमिंग का शिकार हुई मृणाल ठाकुर, एक्ट्रेस ने ट्रोल्स को मज़ेदार अंदाज में दिया जवाब

राधेश्याम फिल्म : प्रभास और पूजा हेगडे का नया गाना ‘जान है मेरी’ हुआ रिलीज, दर्शकों को पसंद आ रही क्यूट लव स्टोरी

मनी लॉन्ड्रिंग मामला : भूमि पेडनेकर को ठग सुकेश चंद्रशेखर ने तोहफे में कार देने का दिया था ऑफर

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *