डायबिटीज (Diabetes) एक ऐसी बीमारी है जिसमें आपको खान-पान का बहुत ध्यान रखना पड़ता है। मरीज को ऐसी डाइट लेने की सलाह दी जाती है जिससे ब्लड शुगर लेवल नियंत्रित करें। आपकी ज़रा सी भी लापरवाही स्वास्थ्य के लिए हानिकारक हो सकती है। सेहतमंद रहने के लिए लाइफस्टाइल में कुछ बदलाव करने की ज़रूरत रहती है।

वहीं ऐसी कई चीजें है जिनके सेवन से डायबिटिज के रोगी अपने बढ़े हुए ब्लड शुगर के स्तर को नियंत्रित कर सकते हैं। इसी में से एक है काला चना। काले चने खाने से डायबिटीज के मरीज को काफी फायदा मिलता है। आइए जानते हैं कि इसके क्या फायदे हैं।

काले चने डायबिटीज के मरीजों के लिए किसी रामबाण से कम नहीं है। काले चने में भरपूर मात्रा में फाइबर होता है जिससे ब्लड शुगर कंट्रोल करने में मदद मिलती है। इसमें घुलनशील और अघुलनशील फाइबर होते हैं। यही कारण है कि शुगर में काले चने खाने की सलाह दी जाती है। इससे ब्लड शुगर लेवल नियंत्रित रहता है।

काले चने को डाइट में शामिल कैसे करें ?
काले चने को आप किसी भी तरह अपनी डाइट में शामिल कर सकते हैं। ज्यादातर लोग सुबह काले चने खाना पसंद करते हैं। आप सुबह काले चने स्प्राउट्स के तौर पर, भीगे हुए, उबला, भूनकर, सब्जी बनाकर या फिर सैलेड के तौर पर खा सकते हैं। काले चने प्रोटीन का अच्छा स्रोत हैं इसलिए आप इन्हें दिन में या सुबह ही खाएं।

काले चने खाने के फायदे
1. काले चने में फाइबर होता है, जो वजन कम करने में मदद करता है।
2. काले चने में कोलेस्ट्रॉल कम करने वाले गुण पाए जाते हैं, जो लोग बढ़े हुए कोलेस्ट्रॉल से परेशान हैं उन्हें भी डाइट में काले चने शामिल करने चाहिए।
3. चने खाने से ज़रूरी न्यूट्रिएंट्स की कमी भी पूरी होती है। आप सलाद में भी इनका इस्तेमाल कर सकते हैं।
4. काले चने एंटीऑक्सिडेंट से भरपूर होते हैं जिससे हार्ट हेल्थ अच्छी रहती है।
5. काले चने में भरपूर कार्बोहाइड्रेट, प्रोटीन, फाइबर, कैल्शियम, मैग्नीशियम और मिनरल्स होते हैं। इसमें विटामिन A, B, C, D के अलावा फॉस्फोरस, पोटैशियम भी होता है।

Disclaimer: इस आर्टिकल में बताई विधि, तरीक़ों व दावों की न्यूज़कुंड पुष्टि नहीं करता है। इनको केवल सुझाव के रूप में लें।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *