दिल्ली: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal Chief Minister of Delhi ) के घर के बाहर बुधवार को हुई तोड़फोड़ की घटना के मामले में दिल्ली पुलिस ( Delhi Police ) ने बड़ी कार्रवाई की है। इस सिलसिले में पुलिस की छह टीमें छापेमारी में लगी हुई हैं। इसके चलते दिल्ली पुलिस ने अब तक कुल 8 लोगों को गिरफ्तार कर लिया है। अभी इस मामले में दिल्ली पुलिस कुछ और लोगों की तलाश में भी जुटी है।

ये भी पढ़ें: सौर तूफान: NASA ने दी चेतावनी पृथ्वी से टकराएगा सौर तूफान, खतरा होगा तीन गुना अधिक

क्या है पूरा मामला –
आपको बता दें कि ‘द कश्मीर फाइल्स’ ( The Kashmir Files ) फिल्म पर दिल्ली विधानसभा में मुख्यमंत्री केजरीवाल ने टिप्पणी की थी जिसके खिलाफ भाजपा युवा मोर्चा ने जमकर प्रदर्शन किया। भाजपा युवा मोर्चा के राष्ट्रीय अध्यक्ष तेजस्वी सूर्या ( Tejasvi Surya ) और राष्ट्रीय सचिव तजिंदर पाल सिंह बग्गा ( Tajinder Pal Singh Bagga ) के नेतृत्व में विरोध प्रदर्शन किया गया। इस दौरान प्रदर्शनकारियों ने सीएम आवास के पास लगाए गए दो बैरिकेड्स और CCTV कैमरे तोड़ दिए इसके बाद बूम बेरियर तक जा पहुंचे और जमकर हंगामा किया।

प्रदर्शनकारियों ने मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के घर के गेट पर भगवा रंग का पेंट भी फेंक दिया। इस पर दिल्ली पुलिस ने कर्यवाही करते हुए कार्यकर्ताओं को वहां से खदेड़ दिया। इसके बाद पुलिस ने करीब 70 लोगों को हिरासत में लिया। हालांकि औपचारिकताएं पूरी करने के बाद इन सभी कार्यकर्ताओं को रिहा कर दिया गया है।

ये भी पढ़ें: Redmi 10A सबसे सस्ती कीमत में हुआ लॉन्च, जानिए कीमत और खास फीचर्स

केजरीवाल की हत्या करवाना चाहती है बीजेपीः सिसोदिया
दिल्ली के उपमुख्यमंत्री का आरोप है कि BJP सरकार सीएम अरिवंद केजरीवाल की हत्या करवाने की साजिश रच रही है। मनीष सिसोदिया ( Manish Sisodia )ने प्रदर्शनकारियों को बीजेपी का गुंडा तक करार दे दिया। दिल्ली के उपमुख्यमंत्री और पंजाब के मुख्यमंत्री समेत आप कार्यकर्ताओं ने BJP और दिल्ली पुलिस पर तीखा हमला बोला। पंजाब के सीएम भगवंत सिंह मान ( Bhagwant Singh Mann Chief Minister of Punjab ) का कहना है कि भाजपा सिर्फ आप व अरविंद केजरीवाल से डरती है। दिल्ली के मुख्यमंत्री आवास पर हमला इसी बौखलाहट का नतीजा है।

पुलिस ने की बड़ी कार्यवाही
एक खबर के मुताबिक़ दिल्ली पुलिस का कहना है कि अब तक जितनी भी गिरफ्तारी हुई है वो सभी भारतीय जनता पार्टी युवा मोर्चा के सदस्य है। पुलिस ने कार्रवाई करते हुए ड्यूटी के दौरान हमला करने, सरकारी आदेश के उल्लंघन, सरकारी काम में बाधा और सार्वजनिक संपत्ति को नुकसान पहुंचाने का मामला दर्ज कर लिया। फिलहाल पुलिस सीसीटीवी और वीडियो फुटेज के आधार पर भी अन्य आरोपियों की पहचान करने का प्रयास कर रही है। हालांकि पुलिस पर जानबूझकर भाजपा कार्यकर्ताओं को ढील देने के आरोप भी लग रहें है।

ये भी पढ़ें: पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों पर कांग्रेस का पीएम मोदी पर हमला पूछा, ये लूटपाट कब बंद होगी?

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *