कोरोना वायरस (Covid Virus) की वजह से एक बार फिर चीन हालात बेकाबू हो गए हैं। यहां लगातार संक्रमितों की संख्या बढ़ती जा रही है। चीन के कई प्रांतों में कोविड-19 के मरीज बड़ी संख्या में मिल रहे हैं। शंघाई में सोमवार से मंगलवार के बीच कोरोना के करीब 9006 नए मरीज मिले। बता दें कि यह कोरोना की पहली लहर की तेजी के बाद से 1 दिन का सबसे बड़ा आंकड़ा है।

शंघाई के 2.6 करोड़ लोगों का टेस्ट करेंगे हेल्थ वर्कर
यहां हालात बेकाबू होते नज़र आ रहे हैं, इससे निपटने के लिए चीनी सरकार सेना ने शंघाई में सेना को भेजने का फैसला किया है। इसके अलावा यहां अलग से 2000 से अधिक हेल्थ वर्कर्स को भी भेजा गया है। ये सभी लोग मिलकर शहर के करीब 2.6 करोड़ लोगों की टेस्टिंग करेंगे।

सरकार ने यहां 2 चरणों में लगाया हुआ है लॉकडाउन
अगर बात करें शंघाई की जनसंख्या की, तो यहां की आबादी करीब 2.6 करोड़ है। पिछले कुछ दिनों में इसी शहर में कोरोना के सबसे ज्यादा मरीज मिले हैं। स्थिति को नियंत्रित करने के लिए सरकार ने यहां 2 चरणों में लॉकडाउन भी लगा रखा है, लेकिन फिर भी मरीजों की संख्या बढ़ रही है।

हॉस्पिटल में नहीं मिल रही मरीजों के लिए जगह
शंघाई में स्थिति का अंदाजा इसी बाद से लगाया जा सकता है कि यहां के सभी हॉस्पिटल फुल चल रहे हैं। किसी भी अस्पताल में संक्रमित मरीजों को एडमिट करने की जगह नहीं है। हालांकि चीन का दावा है कि शंघाई में इस लहर में कोरोना संक्रमण से अभी तक 1 भी मौत नहीं हुई है।

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक, शंघाई में रोजाना जितने कोविड पॉजिटिव मिल रहे हैं, वो चीन में 2019 के अंत में कोरोना के पहले चरण की तेजी के दौरान मिले मरीजों के बाद सबसे ज्यादा हैं।

ये भी पढ़ें: 

दिल्ली सरकार ने शराब पर दी 25 प्रतिशत की छूट, गुरूग्राम के दुकानदारों की बढ़ाई मुश्किलें

उत्तराखंड की इस महिला ने राहुल गांधी के नाम की अपनी सारी संपत्ति, बताई ये बड़ी वजह

CUET 2022 Registration: 6 अप्रैल से शुरू होने जा रहे हैं CUET रजिस्‍ट्रेशन, ऐसे कर पाएंगे आवेदन

दही और अलसी आपका वजन करेगा कम, इस तरह से करें खाने में इस्तेमाल

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *