बिहार में शराबबंदी कानून और जहरीली शराब से होने वाली मौतों को लेकर सियासत ज़ोरों पर है। बिहार के सीएम नीतीश कुमार पर विपक्षी दलों के अलावा बीजेपी के कई नेता भी निशाना साध चुके हैं। वहीं अब इस मामले पर लोजपा (राम विलास) अध्यक्ष चिराग पासवान ने बिहार सरकार को घेरा है। चिराग पासवान ने बिहार राज्य में जहरीली शराब से हुई मौतों के बाद प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाने की मांग उठाई है।

उन्होंने न्यूज एजेंसी ANI से बात करते हुए कहा है कि नकली शराब के सेवन से होने वाली मौतों को रोकने के लिए हमने राज्यपाल को बिहार में राष्ट्रपति शासन की सिफारिश के लिए खत लिखा है।

बता दें कि हाल ही में बिहार के सारण जिले में संदिग्ध अवस्था में पांच लोग मृत पाए गए थे। ऐसी आशंका जताई जा रही है कि यह मामला नकली शराब का हो सकता है। मृतकों में कुछ के परिवारों ने मौत के लिए शराब को दोषी ठहराया है। इस घटना के बाद से चिराग पासवान लगातार बिहार सरकार की कार्यशैली पर सवाल उठा रहे हैं।  आपको बता दें कि अप्रैल, 2016 में बिहार में शराब की बिक्री एवं सेवन पर पूर्ण प्रतिबंध लगा दिया गया था।

ये भी पढ़ें: गोवा में बीजेपी को बड़ा झटका, मनोहर पर्रिकर के बेटे ने निर्दलीय चुनाव लड़ने का किया ऐलान

गौरतलब है कि हाल के कुछ दिनों में बिहार में कथित तौर जहरीली शराब के सेवन से कई जानें गई हैं अभी एक सप्ताह से भी कम समय पहले नालंदा में 11 लोगों की मौत हो गई थी। वहीं इससे पहले दीपावली के आसपास पश्चिमी चंपारण, गोपालगंज, मुजफ्फरपुर और समस्तीपुर जिलों में 40 से अधिक लोगों की जान चली गई थी।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *