नई दिल्ली: कांग्रेस पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) के आवास 10 जनपथ का किराया कई साल से नहीं चुकाया गया है। इसके अलावा कांग्रेस ने अपने मुख्यालय समेत कई बिल्डिंगों का किराया भी नहीं चुकाया है। इसका खुलासा एक आरटीआई (RTI) में हुआ है।

ज़ी न्यूज़ के मुताबिक, केंद्रीय शहरी विकास व आवास मंत्रालय ने RTI कार्यकर्ता सुजित पटेल की अर्जी के जवाब में कहा कि कांग्रेस के कई नेता सरकारी बिल्डिंगों का किराया नहीं चुका रहे हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के आवास 10 जनपथ, 24 अकबर रोड स्थित- कांग्रेस मुख्यालय और चाणक्यपुरी में सोनिया गांधी के निज़ी सचिव के आवास का किराया लंबे समय से नहीं चुकाया गया है। अब इन बंगलों का किराया लाखों रुपये बकाया हो गया है।

RTI में मिले जवाब के अनुसार, कांग्रेस पार्टी मुख्यालय का 12 लाख 69 हजार 902 रुपये का किराया लंबित है। इसका किराया आखिरी बार दिसंबर, 2012 में चुकाया गया था। वहीं सोनिया गांधी के आवास 10 जनपथ का 4 हजार 610 रुपये किराया बाकी है। इसका किराया पिछली बार सितंबर, 2020 में चुकाया गया था।

वहीं इसी तरह से दिल्ली की चाणक्यपुरी में सोनिया गांधी के निजी सचिव, विंसेंट जॉर्ज के बंगला नंबर सी- 109 का 5 लाख 7 हजार 911 रुपये किराया बाकी है। आखिरी बार इस बंगले का किराया अगस्त, 2013 में चुकाया गया था।

फिलहाल इस पूरे मामले में बीजेपी ने चंदा इकट्ठा कर किराया चुकाने का अभियान शुरू कर दिया है। बीजेपी नेता तेजिंदर पाल सिंह बग्गा ने कहा है कि जब किराए के बराबर चंदा इकट्ठा हो जाएगा तो ये सोनिया गांधी को भेजा जाएगा। इस अभियान की शुरुआत तेजिंदर बग्गा ने बुधवार को सोशल मीडिया पर की।

तेजिंदर बग्गा ने कहा कि राजनीतिक मतभेदों को छोड़कर मैं एक इंसान के रूप में उनकी मदद करना चाहता हूं। मैंने एक अभियान शुरू किया और सोनिया गांधी के खाते में 10 रुपये भेजे।

ये भी पढ़ें: राहुल गांधी का ‘Statue of Equality’ को लेकर पीएम मोदी पर हमला, कहा- नया भारत चीन निर्भर

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *