भोपाल: भोपाल गैस त्रासदी मानव इतिहास में एक ऐसी घटना है जिसने पुरे देश और दुनिया को हिला कर रख दिया था। अब इस घटना से जुड़े दोषियों पर पुरे 38 साल बाद 24 मई को सेशन कोर्ट का अंतिम फैसला आएगा। भोपाल से जुड़ा हर व्यक्ति इस फैसले का इंतजार कर रहा है।

1984 में हुए भोपाल गैस त्रासदी (Bhopal Gas Tragedy) से दुनियाभर को झकझोर दिया था। लेकिन अब उससे जुड़ी बड़ी खबर आ रही है कि भोपाल गैस कांड के मामले में लगातार सुनवाई हो रही है। सेशन कोर्ट में यह मामला लंबित है। अब खबर है की 25 से 29 अप्रैल तक अब हर दिन डेढ़ घंटे की सुनवाई इसी मामले में होगी। इसके बाद 24 मई को मामला अंतिम निर्णय के लिए रखा जाएगा। गैसकांड मामले में आरोपियों को कोर्ट ने 2-2 साल की सजा सुनाई थी।

ये भी पढ़ें: OnePlus जल्द ही भारत में लॉन्च कर सकता है OnePlus Tab 5G, जानें क्या होंगे फीचर्स और कीमत!

7 भारतीय अधिकारियों को पाया था दोषी

2010 से यूनियन कार्बाइड इंडिया लिमिटेड (UCIL) और उसके 7 भारतीय अधिकारियों के खिलाफ अब लंबित प्रकरण का अंत हो सकता है। 2010 में जिला अदालत ने यूनियन कार्बाइड इंडिया लिमिटेड और उसके 7 भारतीय अधिकारियों को दोषी पाया था। उन पर धारा 304-A, 336, 337, 338 और धारा 35 के तहत प्रकरण दर्ज हुआ था। गौरतलब है कि 2-3 दिसंबर 1984 की रात को हुई दुनिया की भीषणतम औद्योगिक त्रासदी में हजारों लोग मौत की नींद सो गए थे और हजारों बेघर हो गए थे। 2010 में भोपाल गैस कांड मामले में आरोपियों को 2-2 साल की सजा सुनाई गई थी।

इसके बाद सजा के खिलाफ दोषियों ने ऊपरी अदालत का दरवाजा खटखटाया था। इसमें हर दिन सुनवाई का फैसला कोर्ट ने किया है। इसके बाद अब लोगों को जल्द ही न्याय मिलने की उम्मीद बंध गई है।

ये भी पढ़ें: सड़क पर खड़े Ola Electric Scooter में अचानक लगी आग, सोशल मीडिया पर वायरल हुआ video

ये भी पढ़ें:दिल्ली कैपिटल के कप्तान ऋषभ पंत अपनी पहली जीत पर क्या बोले? इन दो खिलाड़ियों को लेकर कही बड़ी बात

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *