आपने ये तो सुना ही होगा कि शरीर को स्वस्थ रखने के लिए शरीर में विटामिन D की आवश्यकता होती है और यह हमें सूर्य के प्रकाश से प्राप्त होता है, लेकिन क्या आपने कभी सूर्य-आवेशित जल (Sun Charged Water) के बारे में सुना है, जिसका आयुर्वेद में बहुत महत्व है?

ये भी पढ़ें: World Food Safety Day 2022: विश्व खाद्य दिवस पर जानें सुरक्षित और स्वस्थ भोजन की पद्धतियां

दरअसल, शरीर को हेल्‍दी रखने और रोगों को दूर करने के लिए आयुर्वेद में विभिन्न बातों का वर्णन किया गया है। आयुर्वेदिक नुस्खे बहुत ही असरदार होते हैं और रोग को जड़ से ठीक करने में मदद करते हैं। साथ ही आयुर्वेद में सूर्य के प्रकाश का बहुत महत्व है। यह आग (गर्मी) का मुख्य स्रोत है जो हमारी पृथ्वी को बनाने वाले तत्वों में से एक है। आयुर्वेद के अनुसार सूर्य के प्रकाश से कई स्वास्थ्य समस्याओं का इलाज किया जा सकता है। सूरज की रोशनी से चार्ज किए गए पानी को पीने से निम्नलिखित फायदे (Sun Charged Water Benefits) होते हैं।

ये भी पढ़ें: Laughing Buddha : घर में इन जगहों पर रखें लाफिंग बुद्धा, नहीं आएगी कभी तंगी!

सन चार्ज्ड पानी में होते हैं एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल गुण
आयुर्वेदिक विशेषज्ञ डॉ. नितिका कोहली (Dr. Nikita Kohali) ने इंस्टाग्राम पर लिखा, “यह आग (गर्मी) का मुख्य स्रोत है, जो हमारी पृथ्वी को बनाने वाले तत्वों में से एक है। आयुर्वेद के अनुसार, सूरज की रोशनी कई स्वास्थ्य समस्याओं का इलाज कर सकती है। उन्होंने आगे बताया कि ” चार्ज किया गया पानी स्वास्थ्य को बढ़ावा दे सकता है। सन चार्ज्ड पानी में एंटी-वायरल, एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं जो स्वास्थ्य समस्याओं और त्वचा की समस्याओं को दूर रखते हैं। यदि आप ऐसे व्यक्ति हैं जो दिन भर ऊर्जा की कमी महसूस करते हैं, तो सूर्य चार्ज पानी पीने पर विचार करें।

ये भी पढ़ें: रिलेशनशिप को बेहतर और मजबूत बनाने के लिए सिर्फ फिज़िकल इंटीमेसी का नहीं इनका भी रखें ध्यान

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Dr Nitika Kohli (@drnitikakohli)

त्वचा के लिए भी होता है फायदेमंद
हेल्दी स्वास्थ्य ही नहीं बल्कि यह हमारी त्वचा के लिए भी बहुत अच्छा है क्योंकि यह “त्वचा की सामान्य समस्याओं जैसे चकत्ते, लालिमा को ठीक करता है और आपकी त्वचा को चमकदार रखता है”। डॉ. कोहली ने सुझाव देते हुए कहा कि यदि आप आंख या त्वचा की समस्याओं से पीड़ित हैं, तो आपको उन्हें धूप से चार्ज पानी से धोना चाहिए । “चूंकि इस पानी में एंटी-फंगल और एंटी-बैक्टीरियल गुण होते हैं, इसलिए यह किसी भी सामान्य समस्या को दूर रखता है।”

ये भी पढ़ें: Momos Side Effects: मोमोज खाने से हो सकते हैं ये भारी नुकसान

इस “जादू की औषधि”  को घर पर बनाने की तरीके
आयुर्वेदिक विशेषज्ञ द्वारा साझा किए गए इन सुझावों का पालन करें।
1. कांच की बोतल में पानी भरकर कम से कम 8 घंटे के लिए धूप में रख दें। आप इसे रोजाना कर सकते हैं या सर्वोत्तम परिणामों के लिए इसे 3 दिनों तक 8 घंटे तक धूप में रख सकते हैं।
2. इस पानी को रेफ्रिजरेट करने से बचें क्योंकि इससे पानी के स्वास्थ्य लाभ कम हो सकते हैं।
3. इस पानी को दिन भर पिएं। आप कितना पानी पीते हैं, इसके आधार पर आप एक या अधिक बोतलें धूप में रख सकते हैं।

ये भी पढ़ें: Long Distance Relationship में ऐसे बढ़ाएं नजदीकियां, नहीं आएंगी कभी दूरियां

हालांकि उन्होंने ये भी सलाह दी है कि सूर्य चार्ज पानी पूरी तरह से प्राकृतिक है और इसका आपके स्वास्थ्य पर कोई दुष्प्रभाव नहीं होना चाहिए, लेकिन यदि आप दवा या किसी बीमारी का इलाज कर रहे हैं तो अपने डॉक्टर से परामर्श लें।”

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *