पंजाब में मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने से पहले ही आम आदमी पार्टी के नेता भगवंत मान (Bhagwant Mann) एक्शन मोड में नजर आ रहे हैं। भगवंत मान के निर्देश पर राज्य सरकार ने कई VVIP और बड़े नेताओं की सरकारी सुरक्षा को हटा दिया है। इस एक्शन से स्पष्ट संकेत हैं कि आने वाले दिनों में प्रदेश में कई महत्वपूर्ण बदलाव देखने को मिल सकते हैं।

पूर्व विधायकों से छिनी सिक्योरिटी
शनिवार को पंजाब में पूर्व विधायकों, पूर्व मंत्रियों और कई VVIP से सिक्योरटी वापस लेने के निर्देश जारी किए गए हैं। कैप्टन अमरिंदर सिंह और चरणजीत सिंह चन्नी जैसे पूर्व मुख्यमंत्रियों को छोड़कर अन्य तमाम कांग्रेस और अकाली दल के बड़े नेताओं की सुरक्षा में कटौती कर दी गई है और कई पूर्व विधायकों से सुरक्षा वापस ले ली गई है। बता दें कि सिर्फ बादल परिवार को ही केंद्रीय गृह मंत्रालय के निर्देश पर सुरक्षा मिली हुई है। मंत्रियों के पास 15-20 सुरक्षाकर्मी वापस लिए गये, वहीं 122 वीआईपी लोगों की सुरक्षा में भारी कटौती की गई है।

ये भी पढ़ें: Bhagwant Mann Oath Ceremony: भगवंत मान 16 मार्च को लेंगे CM पद की शपथ

भगवंत मान ने वेणु प्रसाद को अपना प्रिंसिपल सेक्रेटरी किया नियुक्त
इससे एक दिन पहले ही पंजाब के होने वाले नए मुख्यमंत्री भगवंत मान ने वेणु प्रसाद (Venu Prasad) को अपना प्रिंसिपल सेक्रेटरी नियुक्त किया। वेणु प्रसाद 1991 बैच के आईएएस हैं।

16 मार्च को सीएम पद की शपथ लेंगे भगवंत मान
आपको मालूम हो कि AAP नेता भगवंत मान 16 मार्च को पंजाब के मुख्यमंत्री पद की शपथ (Bhagwant Mann Oath Ceremony) लेंगे। इस दौरान आम आदमी पार्टी के दूसरे विधायकों को भी कैबिनेट मंत्री की शपथ दिलाई जाएगी। विशेष बात यह है कि शपथ ग्रहण समारोह नवांशहर जिले के खटकरकलां में आयोजित किया जाएगा। वहीं इससे पहले दिल्ली के सीएम और आप के प्रमुख अरविंद केजरीवाल के साथ अमृतसर में विजय रोड शो करेंगे।

गौरतलब है कि पंजाब में 117 विधानसभा सीटों के लिए हुए चुनाव में आम आदमी पार्टी ने 92 सीतें जीतकर बहुमत हासिल किया है, जबकि कांग्रेस 18 सीटों पर सिमट गई है।

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *