Basant Panchami 2022 : बसंत पंचमी का त्यौहार देशभर में पूरे धूमधाम से मनाया जाता है। इस दिन शुभ मुहूर्त में मां सरस्वती की पूजा से विद्या और ज्ञान की प्राप्ति होती है। इस बार ये पर्व 5 फरवरी दिन शनिवार को मनाया जाएगा। बसंत पंचमी का ये पर्व प्रकृति की सौंदर्यता के दर्शन कराता है।

बसंत पंचमी का शुभ मुहूर्त 
माघ मास के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि शनिवार, 5 फरवरी को सुबह 03 बजकर 47 मिनट से शुरू होगी। बसंत पंचमी की पूजा सूर्योदय के बाद और पूर्वाह्न से पहले की जाती है। पूजा का शुभ मुहूर्त सुबह 07 बजकर 07 मिनट से 12 बजकर 35 मिनट यानि 5 घंटे 28 मिनट तक का रहेगा।

बसंत पंचमी के दिन कुछ कार्यों को विशेष तौर पर करने की मनाही है। इस दिन भूल से भी पेड़ पौधों को काटना या नुकसान नहीं पहुंचाना चाहिए। साथ ही इस दिन स्नान करके मां सरस्वती की पूजा करें इसके बाद ही कुछ ग्रहण करें। आइये जानते हैं इस दिन क्या करें-क्या न करें।

बसंत पंचमी के दिन क्या करें
1- आप इस दिन कोई भी शुभ काम बिना मुहूर्त देखें कर सकते हैं।
2- बसंत पंचमी के दिन सुबह उठते ही अपनी हथेलियों को अवश्य देखें। कहा जाता है मां सरस्वती हमारी हथेलियों में वास करती हैं।
3- बसंत पंचमी के दिन शिक्षा से संबंधित चीजों का दान करने से शुभ फल की प्राप्ति होगी।
4- इस दिन शिक्षा से संबंधित चीजों और अपनी पुस्तकों की पूजा करें। इससे पढ़ाई के प्रति आपका ध्यान और एकाग्रता बढ़ती है.

भूल से भी ना करें ये काम
1- बसंत पंचमी के दिन बिना स्नान किए कुछ भी ना खायें।
2- इस दिन काले रंग के वस्त्र न पहनें।
3- बसंत पंचमी के दिन मांस-मंदिरा का सेवन ना करें।
4- इस दिन पेड़-पौधों की कटाई-छटाई भी न करें।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *