धर्म परिवर्तन को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल और आम पार्टी के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने बड़ा बयान दिया है। अरविंद केजरीवाल ने जालंधर में शनिवार को मीडिया से बात करते समय कहा कि जबरन धर्म परिवर्तन के खिलाफ कानून बनना चाहिए और किसी को बेवजह और गलत तरीके से परेशान नहीं करना चाहिए।

आपको बता दें कि हिमाचल प्रदेश ,मध्य प्रदेश ,कर्नाटक, उत्तर प्रदेश सहित कई राज्यों ने जबरन धर्मांतरण को रोकने के लिए कानून बनाया हुआ है। असम समेत अन्य कई राज्यों में भी जबरन धर्मांतरण के खिलाफ कानून लाने पर सरकार विचार कर रही है।

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि, “धर्म किसी भी व्यक्ति का निजी मामला है। हमारे देश में हर किसी को अपनी पसंद के अनुसार पूजा करने का अधिकार है। जबरन धर्मांतरण के खिलाफ एक कानून निश्चित रूप से बनाया जाना चाहिए, लेकिन इसके माध्यम से किसी को गलत तरीके से परेशान भी नहीं किया जाना चाहिए। डरा कर किया गया धर्मांतरण गलत है।”

ये भी पढ़ें: अरविंद केजरीवाल जल्द हटाएंगे पबंदियां, कहा- पिछले 10 दिनों में 20% घट गई कोरोना संक्रमण दर

इसके अलावा कहा कि अगर पंजाब में आम आदमी पार्टी की सरकार बनती है तो राज्य में अगले 5 साल तक कोई भी नया टैक्स नहीं लगाया जाएगा। इसके साथ ही घर-घर डिलीवरी सेवा और मोहल्ला क्लीनिक भी शुरू किए जाएंगे।

गौरतलब है कि पंजाब में विधानसभा चुनाव के लिए 20 फरवरी को मतदान किए जाएंगे और 10 मार्च को नतीजे आएंगे। पंजाब में आम आदमी पार्टी ने अपने सीएम चेहरे की भी घोषणा भगवंत मान के रूप में कर दी है।

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *