टेलीविजन के सबसे पॉपुलर शो ‘अनुपमा’ (Anupamaa) के फैंस के लिए एक बुरी खबर सामने आई हैं, ये खबर जितनी शॉकिंग है, उतनी ही सच भी है। जी हां, अनुपमा के सबके चहेते ‘समर’ यानी पारस कलनावत (Paras Kalnawat) को सीरियल से बाहर का रास्ता दिखा गया है। अनुपमा के मेकर्स पारस कलनावत से इतने नाराज हुए कि उन्होंने रातोंरात एक्टर को शो से आउट कर दिया। आइये जानते हैं कि आखिर माजरा क्या है, जो मेकर्स को पारस कलनावत की शो से छुट्टी करनी पड़ गई।

ये भी पढ़ें:

अनुपमा से बाहर हुए पारस
अनुपमा के छोटे बेटे के रूप में पारस कलनावत ने दर्शकों के दिलों में खास जगह बना ली थी। वहीं अचनाक उनका शो से बाहर होना हर किसी को खल रहा है। रिपोर्ट्स के मुताबिक, अनुपमा से बाहर होने के बाद पारस ‘झलक दिखला जा 10’ में अपना डासिंग हुनर दिखाते नजर आयेंगे। हालांकि, मेकर्स की नाराजगी की वजह भी यही शो है।

मेकर्स ने पारस पर कॉन्ट्रेक्ट तोड़ने का लगाया आरोप
कहा जा रहा है कि पारस कलनावत ने अनुपमा मेकर्स को बिना बताये ‘झलक दिखला जा 10’ का कॉन्ट्रैक्ट साइन कर लिया था। पारस की इस हरकत से गुस्साए अनुपमा शो के मेकर्स ने उनका कॉन्ट्रैक्ट टर्मिनेट करके उन्हें शो से आउट कर दिया। शो के डायरेक्ट राजन शाही (Rajan Shahi) ने पारस पर अपना गुस्सा जाहिर करते हुए कहा है कि उन्होंने शो का कॉन्ट्रैक्ट तोड़ा है, जिस वजह से उन्हें अनुपमा से निकाल दिया गया है।

ये भी पढ़ें: 

पारस ने दी सफाई?
Bombay Times को दिये गये इंटरव्यू में पारस कलनावत ने इस सारे मुद्दे पर अपनी सफाई दी है। पारस का कहना है कि झलक दिखला जा से वो नई जर्नी शुरू करने जा रहे हैं। लेकिन उनके दिल में अनुपमा शो की टीम के लिये काफी सम्मान है। वो कहते हैं कि मैं ‘झलक दिखला जा’ से अपना नया सफर शुरू करने जा रहा हूं। हालांकि उन्होंने कहा कि जब मीडिया में इसे लेकर खबरें आईं, तब मैंने शो साइन नहीं किया था, लेकिन मेकर्स इसे सच मान बैठे। ऐसा नहीं है कि पारस को अपनी भूल का एहसास नहीं है। आगे बात करते हुए पारस कहते हैं कि मुझे शो साइन करने से पहले मेकर्स से बातचीत कर लेनी चाहिये थी, जो कि उन्होंने नहीं की।

ये भी पढ़ें: Manoj Bajpayee: ‘पुष्पा 2’ में कास्ट किए जाने को लेकर मनोज बाजपेयी ने तोड़ी चुप्पी, खास अंदाज में Twitter पर दी प्रतिक्रिया

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *