यूपी विधानसभा चुनाव 2022: समाजवादी पार्टी के अध्यक्ष अखिलेश यादव ने हाथरस में रेप के बाद जान गंवाने वाली युवती की याद में पिछले वर्ष नवंबर में हर माह की 30 तारीख को ‘हाथरस की बेटी स्मृति दिवस’ मनाने की बात कही थी। इसी क्रम में उन्होंने रविवार को हाथरस की पीड़िता की याद में मोमबत्ती जलाकर श्रद्धांजलि देते हुए अपनी एक तस्वीर ट्विटर पर शेयर की है।

वहीं इससे पहले अखिलेश ने एक ट्वीट किया था जिसमें ट्वीट में पीड़िता के प्रति हुये अपराध के लिये सरकार को घेरा। सपा ने लिखा था कि प्रदेशवासियों व सपा कार्यकर्ताओं से अपील है कि हर महीने की 30 तारीख को याद किये जाने वाले ‘हाथरस की बेटी स्मृति दिवस’ की कड़ी में आज 30 जनवरी को ‘हाथरस की बेटी स्मृति दिवस’ मनाएं और लोगों को ‘दलित व महिला विरोधी भाजपा’ की बर्बरता याद दिलाएं!

गौरतलब है कि हाथरस के एक गांव में 14 सितंबर 2020 को 19 साल की युवती के साथ कथित तौर पर सामूहिक दुष्कर्म किया गया था। युवती की हालत बिगड़ने के बाद उसे दिल्ली के सफदरजंग अस्पताल ले जाया गया था, जहां घटना के दो हफ्ते बाद पीड़िता की मौत हो गयी थी। परिवार और स्थानीय ग्रामीणों का आक्रोश था कि पुलिस ने जबरन आधी रात को उसका अंतिम संस्कार करवा दिया था। वहीं, स्थानीय पुलिस अधिकारियों का कहना था कि परिवार की इच्छा के अनुसार अंतिम संस्कार कराया गया है।

 

 

Spread the love

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *